पाखी अपने शक को दूर करने के लिए विराट के

पास जाती है । इस बीच, विराट गुस्से में निकल जाएगा

और फैसला करेगा कि वह सई से विनायक का

इलाज नहीं करवाएगा। बाद में सई और विराट आपस

में तय करेंगे कि विनायक की तबीयत के लिए

उन्हें इलाज के बीच में नहीं आना चाहिए। लेकिन विराट

इस बात को पाखी से छिपाएंगे। इसी बीच पाखी विराट

और विनायक को सरप्राइज देने पहुंच जाएगी। पाखी

को देखकर सई का फिर से दिल टूट जाएगा और

वह विराट को गलत समझेगी।