Anupama की बेटी पाखी ने बॉयफ्रेंड अधिक के साथ भागकर शादी

कर ली, लेकिन फिर जब उसे इस बात का अहसास हुआ कि ना 

तो उसके सिर पर छत है और ना ही कोई करियर तो वह अपने

पति के साथ वापस शाह निवास आ गई। पाखी उम्मीद कर रही थी

कि भाग कर शादी करने के बाद जब वह घर पहुंचेगी तो सभी

उसे माफ कर देंगे और वह अपने पति के साथ खुशी-खुशी 

शाह निवास में रहेगी। लेकिन हुआ इसका ठीक उल्टा हुआ

नराज पाखी घर से निकल देता है