लॉकडाउन: कब शुरू होंगे कॉलेजों में एडमिशन और पढाई, जानिए यहाँ

सेंट्रल डेस्क: कोरोना वायरस ने पुरे देश में तबाही मचा रखी है। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश भर में लॉकडाउन जारी है। इससे शैक्षणिक सत्र देर से शुरू होने के अनुमान हैं। कॉलेज में एडमिशन की तारीख बढ़ने का भी अनुमान है। एडमिशन देर से शुरू होने का कारण है केंद्र सरकार के पास आयी एक रिपोर्ट।

केंद्र सरकार के बनाये एक समिति की एक रिपोर्ट में सत्र को देर से शुरू करने की सिफारिश की गयी है। अगर इस समिति की बात केंद्र सरकार अमल में लाती है तो क्लासेज देर से शुरू होंगी। यानि अब कॉलेजों में जून और जुलाई शुरू होने वाला सत्र, सितम्बर में शुरू होंगी। लॉकडाउन के कारण देश के सभी कॉलेज और स्कूल बंद हैं।

lockdown-ke-bad-college-me-admission-shuru-ho-jayega

क्या है समिति की रिपोर्ट में

केंद्र के सामने पेश रिपोर्ट में शैक्षणिक कैलेंडर के बदलने के लिए कहा गया है। इसके कम से कम दो महीने आगे बढ़ाने के लिए कहा गया है। इसके अलावा जुलाई में होने वाली परीक्षाओं को भी आगे बढ़ाने की भी सिफारिश इस रिपोर्ट में हैं। परीक्षाओं के डेट्स ना बदलने के लिए, Online परीक्षा लेने का भी विकल्प की चर्चा किया गया है। हालांकि मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने अब तक इस पर कोई फैसला नहीं लिया है।

lockdown-ke-bad-college-me-admission-shuru-ho-jayega
File Photo

एडमिशन की तारीखों में बदलाव कैसे

Advertisement

अगर केंद्र ये बदलाव मानता है तो मेडिकल और इंजीनियरिंग कोर्स के लिए उसे सुप्रीम कोर्ट जाना होगा। इसके बिना केंद्र इनके तारीखों के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं कर सकता है। मामले की साफ़ तस्वीर अगले एक हफ्ते में आने की उम्मीद है। अगर ऐसा होता है तो तो इस साल की पढाई सप्तम्बर से शुरू होगी। हालाकि यह जरुरी नहीं है की हर सिफारिशों को माना ही जाए।

बिना परीक्षा पास करने पर भी हो रहा विचार

कॉलेज बंद हैं, लेकिन कई यूनिवर्सिटीज ऑनलाइन पढाई करवा रहे हैं। ऑनलाइन क्लास को ध्यान में रखते हुए बच्चों को बिना एग्जाम के पास किये जाने पर भी विचार हो रहा है। हालांकि, जब स्थिति काबू में आ जाये तब उनकी परीक्षा ली जाएगी। अंतिम वर्ष के छात्रों को इस दायरे से बाहर रखा गया है। इस कोरोना काल में ऑनलाइन क्लास तो चल रही है लेकिन बड़ी दिक्कत है परीक्षाओं की। यही कारण है कि छात्रों को बिना एग्जाम के पास करने पर विचार किया जा  रहा है।

बिहार और देश-दुनिया से जुडी खबरों के लिए फॉलो करें 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।